Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi

हैदराबाद दरिंदगी की पूरी कहानी, जानिए

0

[ad_1]

हैदराबाद में 26 साल की वेटनेरी डॉक्‍टर के गैंगरेप और निर्ममता से उसकी हत्‍या की घटना ने हर किसी को दहलाकर रख दिया है। हैदराबाद में महिला वेटरनरी डॉक्टर के रेप-मर्डर मामले में तेलंगाना पुलिस ने जो रिमांड रिपोर्ट दाखिल की है, उससे केस की कई डिटेल्स सामने आई हैं। बता दें कि पुलिस ने 29 नवंबर को इस मामले में 4 आरोपियों- जोलू शिवा, जोलू नवीन, मोहम्मद आरिफ और चिंताकुंता चेन्नाकेशावुलु को गिरफ्तार किया था।


28 नवंबर को मिली बॉडी

वेटरनरी डॉक्टर की झुलसी हुई बॉडी हैदराबाद-बेंगलुरु राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक पुलिया के पास 28 नवंबर को मिली थी, जो उस टोल प्लाजा से करीब 25 किलोमीटर दूर है, जहां वह आखिरी बार देखी गई थी।

ऐसे रची साजिश

जब महिला डॉक्टर (27 नवंबर की शाम) शमशाबाद टोल गेट पर आई और उसने वहां अपनी स्कूटी खड़ी की, तभी नशा करने वाले चारों आरोपियों ने डॉक्टर को देखा। उन्होंने उसी वक्त डॉक्टर का रेप करने का फैसला किया क्योंकि ‘वह सुंदर थी। तभी उन्होंने महिला डॉक्टर की स्कूटी का टायर पंक्चर करने और फिर मदद का दिखावा करने की साजिश रची।

किस तरह महिला को किया अगवा?

आरिफ, नवीन और चेन्नाकेशावुलु ने जब महिला को जबरन उठाया तो वह लोगों का ध्यान खींचने के लिए चिल्लाई। तभी आरिफ ने महिला का मुंह बंद कर दिया ताकि वह आवाज ना कर सके, जबकि दो आरोपी महिला को टोल प्लाजा के पास की झाड़ियों की तरफ खींचने लगे। इसी बीच नवीन ने महिला का फोन लेकर उसे स्विच ऑफ कर दिया। जब आरोपी महिला के कपड़े जबरन उतार रहे थे, तब भी महिला झाड़ियों में चीख रही थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.