Hindi News - Breaking News, Latest News in Hindi

पश्चिम बंगाल में हिंसा के विरोध में बीजेपी का शक्ति प्रदर्शन, हिंसक झड़प की आशंका

0

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ दिनों से हो रही लगातार हिंसा और नेताओं की नृशंस हत्या के बाद बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) आज कोलकाता में विरोध प्रदर्शन करेगी. बीजेपी कार्यकर्ता कोलकाता के लाल बाज़ार से होकर पुलिस हेडक्वार्टर तक पहुंचेंगे. इस दौरान पश्चिम बंगाल बीजेपी के बड़े नेता और सभी 18 सांसद भी मौजूद रहेंगे.

बीजेपी ने दावा किया है कि लगभग 1 लाख़ कार्यकर्ता इस विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे.

माना जा रहा है कि कोलकाता पुलिस भीड़ को लाल बाज़ार में ही रोक लेगी, ऐसे में कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हिंसक झड़प होने की आशंका भी ज़ाहिर की गई है.

बुधवार को बीजेपी के मार्च को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. कोलकाता पुलिस के तीन हजार पुलिसकर्मी मध्य कोलकाता के विभिन्न इलाकों में तैनात किए गए हैं.

फियर्स लेन, बेंटिंक स्ट्रीट और टी बोर्ड के पास विशेष सुरक्षा के इंतजाम किये गये हैं, लालबाजार के आसपास सभी क्रॉसिंग में डिप्टी कमिश्नर व असिस्टेंट कमिश्नर के नेतृत्व में पुलिसकर्मी सुरक्षा में तैनात हैं, किसी भी तरह की अशांति फैलानेवालों को तुरंत गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है.

बीजेपी का आरोप है कि अब तक 84 लोगों की हत्या हुई है जबकि राज्य सरकार सिरे से ख़ारिज़ कर रही है. अब तक पश्चिम बंगाल में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस लोकसभा चुनाव के बाद जारी हिंसा के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराती रही है.

इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में फैली हिंसा में तृणमूल के 8 और बीजेपी के 2 कार्यकर्ता मारे गए. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने कहा कि बीजेपी बंगाल को गुजरात बनाने की कोशिश कर रही है. मैं जेल जाने के लिए तैयार हूं लेकिन यह नहीं होने दूंगी.

उधर, बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल की तृणमूल कांग्रेस की सरकार को देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा बताया है. उन्होंने ममता सरकार को बर्खास्त करने की मांग करते हुए कहा कि बंगाल में बम और पिस्तौल, वहां के राजनीतिक दलों के प्रमुख हथियार हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.